हिस्ट्रीशीटर बुलठू गोलीकांड : बेटे पर चाकू से हमला होता देख आरोपी ने आत्मरक्षा के लिए चलाई थी गोली

रायपुर । बीती रात राजधानी में हुई गोलिकांड में आरोपी ने बेटे पर चाकू से वार होता देख आत्मरक्षा के लिए अपनी लाइसेंसी बंदूक चलाई। जिससे जिससे हिस्ट्रीशीटर बुलठू पाठक की मौके पर ही मौत हो गई। ये कहा है एएसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने। उन्होंने कहा कि चार बार गोली दागी गई थी जिसमें दो गोली जाकर मृतक बुलठू को लगी।

एएसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि घटनास्थल से मिस फायर हुई दो गोलियां और चाकू मिली है। पूरी घटना पेट्रोल पंप में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। मृतक पाठक पर पहले से ही हत्या, हत्या का प्रयास समेत 34 मामला दर्ज है। ये सभी मामले 2009 से पहले का है। उन्होंने बताया कि जिला बदर की कार्रवाई की गई थी वो भी 2009 पहले का है।

उन्होंने कहा कि पेट्रोल पंप में दोनों के बीच गाड़ी की लाइट आँख में पढ़ने के कारण विवाद हुआ था। आपसी रंजिश के बात जाँच के बाद पता चलेगा। पाठक ने जिस व्यक्ति को चाक़ू मारा था वो फ़िलहाल ख़तरे से बाहर है और एक निजी अस्पताल में इलाज जारी है। फ़िलहाल पूरे मामले की जांच की जा रही है।