बाल-बाल बचे पूर्व केंद्रीय मंत्री रामकृपाल, उफनती नदी में गिरे

पटना । पूर्व केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव आज बाल-बाल बच गए। मंत्री दरधा नदी में आयी बाढ़ के बाद धनरुआ के कई गांवों का निरीक्षण करने गए थे, तभी कुछ समर्थकों ने उनसे टायर की बनी एक छोटी से नाव में चलने की ज़िद की। पहले तो रामकृपाल यादव जाने से मना करते रहे लेकिन समर्थक नहीं माने। समर्थकों की जीद के आए उन्हें झुकना पड़ा और इस तरह वो टायर से बनी नाव पर सवार हो गए।

अचानक कुछ दूर जाने के बाद टायर वाली नाव पलट गया। जिससे रामकृपाल यादव नदी में गिर गए। इस हादसे के बाद अफरातफरी मच गई। किसी तरह से रामकृपाल यादव को बचाया गया। फिलहाल रामकृपाल यादव सुरक्षित हैं।

गौरतलब है कि बारिश से पटना में जलभराव हो गया है। वहीं नदियां भी उफान पर हैं। बताया जाता है कि गंगा के साथ ही पुनपुन नदी भी उफान पर है। पुनपुन नदी का जलस्‍तर 1975 के रिकॉर्ड के बिल्‍कुल नजदीक पहुंच गया है। नदी का पानी निचले इलाकों में फैल गया है। वहीं दरधा नदी में भी उफान पर है। दरधा नदी का पानी भी कई इलाकों में फैल गया है। इससे लोगों की परेशानी बढ़ गई है।