पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की हालत बेहद नाजुक, डॉक्टरों ने वेंटिलेटर हटाकर ECMO पर किया शिफ्ट

नई दिल्ली. बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह उन्हें देखने के लिए एम्स पहुंचे हैं. सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह भी तक एम्स पहुंच सकते हैं. इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी उन्हें देखने एम्स पहुंचे थे. 

अरुण जेटली को एम्स में डॉक्टरों ने उनकी बिगड़ती हालत को देखते हुए वेंटिलेटर से हटाकर ईसीएमओ (ECMO) यानी एक्सट्राकॉर्पोरियल मेंब्रेन ऑक्सीजिनेशन पर शिफ्ट किया है. ईसीएमओ पर मरीज को तभी रखा जाता है, जब दिल और फेफड़े ठीक से काम नहीं करते और वेंटीलेटर का भी फायदा नहीं हो रहा होता है. तब इसकी मदद से मरीज के शरीर में ऑक्सीजन पहुंचाई जाती है.