मरे हुए बच्चे का हर साल जन्मदिन मनाती रही माँ, 30 साल बाद मिला जिंदा…

नई दिल्ली. बच्चे को खोना दुनिया का सबसे बड़ा दर्द होता है. केवल एक मां जानती है कि ये कितना बड़ा दर्द है क्योंकि वो 9 महीने तक बच्चे को अपने पेट में पालती है. लेकिन एक मां के साथ हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है. जिस बच्चे को उसने मरा हुआ समझा था, वह करीब 30 साल बाद उसे जिंदा मिला. दरअसल कैलीफोर्निया की टीना बेजार्नो ने 17 साल की उम्र में एक बच्ची क्रिस्टिन को जन्म दिया था. लेकिन अगले ही दिन टीना को बताया गया कि उनके बच्चे की जन्म के कुछ मिनट बाद मौत हो गई. फिर भी दुखी मां अपनी इस मृत बच्ची की याद में हर साल उसका जन्मदिन मनाती रही. 

बाद में टीना इरिक गार्डेरे नाम के शख्स को डेट करने लगीं. 30 साल बाद टीना को एक मेल मिला. यह मेल न्यू जर्सी के एक शख्स ने उन्हें भेजा. इस शख्स ने दावा किया कि टीना उसकी मां हैं. मेल ऑनलाइन के मुताबिक टीना और क्रिस्टिन ने अपना डीएनए डाटाबेस कंपनी को दिया जहां ये मैच हो गया. डीएनए मैच होने के बाद क्रिस्टिन ने बेजार्नो को ईमेल किया और लिखा कि मुझे लगता है कि हमें बात करने की जरूरत है. यह बताता है कि हम एक दूसरे से संबंधित हैं और आप मेरी मां हैं. 

डीएनए टेस्ट से यह साबित हुआ कि बचपन में टीना के बच्चे की मौत नहीं हुई थी लेकिन वह बच्चा अब ट्रांसजेंडर आदमी के रूप में रह रहा था. दरअसल टीना की मां उनकी प्रेगनेंसी के समय सपोर्टिव नहीं थी और उनके साथ अच्छा व्यवहार नहीं करती थीं. क्रिस्टिन को अडॉप्ट कर लिया गया था और उसका लास वेगास में लालन पोषण हुआ. लेकिन वह जल्द ही एक आदमी के रूप में तब्दील हो गई और इस समय 29 साल की है. उसके साथ उसकी पत्नी और बच्चे भी हैं. अब टीना का कहना है कि उन्हें फर्क नहीं पड़़ता है कि उनका बच्चा पुरुष के रूप में है या महिला के रूप में लेकिन वह बस इतना जानती हैं कि वह उनका बच्चा है.