CRPF के 74वीं वाहिनी को मिली बड़ी सफलता, 8 जवानों की हत्या में शामिल रही महिला नक्सली को किया गिरफ्तार

सुकमा: सुकमा जिले के अतिसंवेदनशील क्षेत्रो में तैनात CRPF की 74वीं वाहिनी को एक बड़ी सफलता मिली है। PLGA टीम की सदस्य कोर नक्सली तात्ति भीमे को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त हुई है। 74वीं वाहिनी के बस्तरिया बटालियन की महिला प्लाटून ने भी अहम योगदान दिया। गिरफ्तार की गई महिला नक्सली 2012 से नक्सली संघठन में जुड़ कर कई बड़ी नक्सली घटनाओं को अंजाम दिया था। जिसमे पिडमेल में 7 STF और गचनपल्ली में एक कोबरा जवान शहीद हुआ था इन अहम घटनाओ में शामिल थी महिला नक्सली।

दरअसल ताती भीमे नक्सली कमाण्डर पङा अप्पू की टीम में सक्रिय सदस्य थी। मगर कुछ दिनों से बीमार चल रही थी जिसे खुद नक्सली कमांडर ने गोड़ेलगूडा ताति भीमे घर छोड़ा था। ताकि इलाज करवा सके जिसके बाद 74वाहिनी के कमाण्डेन्ट प्रवीण कुमार को इसकी भनक लगी तत्काल बटालियन के द्वितीय कमान अधिकारी संदीप कुमार नीरज के नेतृत्व में घेरा बंदी कर गोड़ेलगूडा से चोरी छुपे बीमारी का इलाज करवा रही महिला नक्सली को गिरफ्तार किया गया।

साथ ही सीआरपीएफ 74 वाहिनी ने मानवता दिखाते हुए पहले महिला नक्सली का उपचार भी करवाया। जिसमे बस्तर बटालियन की महिला प्लाटून का पूरा योगदान रहा।